The Political India
अन्य इलेक्शन प्रादेशिक राष्ट्रीय विशेष

पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने थामा महागठबंधन का दामन


हाल ही में एनडीए (NDA) से अलग हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा आज महागठबंधन में शामिल हो गए.

नई दिल्ली: हाल ही में एनडीए (NDA) से अलग हुए पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा आज महागठबंधन में शामिल हो गए. गुरुवार शाम आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने इसकी घोषणा की. उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा महागठबंधन में शामिल हो गए हैं. अहमद पटेल ने कहा, ‘बिहार में पहले से गठबंधन था और आज उसमें उपेंद्र कुशवाहा जी शामिल हुए हैं. हम उनका स्वागत करते हैं.’ इस मौके पर राजद नेता तेजस्वी यादव, बिहार के वरिष्ठ नेता शरद यादव हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के जीतन राम मांझी भी मंच पर मौजूद थे. इस मौके पर राजद नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि यह संविधान को बचाने की लड़ाई है. यह देश को बचाने की लड़ाई है. यह उनके खिलाफ लड़ाई है, जिन्होंने जनता को सिर्फ धोखा देने का काम किया है.

महागठबंधन में शामिल होने के बाद पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि आज से हमारी पार्टी यूपीए का हिस्सा बन गई है. मैं यहां बिहार की जनता के आशीर्वाद के कारण उपस्थित हुआ है. उन्होंने कहा कि एनडीए छोड़ने का कारण यह था कि मेरा वहां अपमान हो रहा था. कुशवाहा ने राहुल गांधी और लालू यादल का आभार भी जताया. उन्होंने कहा कि इन दोनों नेताओं ने उदारता दिखाई.

कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा, ‘बिहार और देश की चिंता करते हुए कुशवाहा जी ने राजग से नाता तोड़ा और आज हमारे साथ जुड़ रहे हैं. उन्होंने बिहार और पिछड़े एवं अति पिछड़े वर्ग के लोगों के हित में यह फैसला किया है. हम अपने परिवार में तहेदिल से उनका स्वागत करते हैं.’ राजद नेता तेजस्वी यादव ने कुशवाहा को बधाई देते हुए कहा कि सभी दल ‘देश और संविधान बचाने’ के लिए एकजुट हुए हैं.

बता दें कि हाल ही में वरिष्ठ कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कुशवाहा के भाजपा के नेतृत्व वाले राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन छोड़ने के बाद मुलाकात की थी. तब से ही कयास लगाए जाने लगे थे कि कुशवाहा महागठबंधन का हिस्सा बन सकते हैं. कुशवाहा के अलग होने के बाद बिहार में भाजपा के अलावा बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जेडीयू और केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान की लोजपा राजग (NDA) के अन्य घटक दल हैं.

बता दें कि रालोसपा ने 2014 का लोकसभा चुनाव भाजपा के साथ गठबंधन करके लड़ा था और तीन सीटों पर जीत हासिल की थी. हालांकि, बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ भाजपा के हाथ मिलाने के साथ ही दोनों दलों के बीच तनाव शुरू हो गया था और 2019 के लोकसभा चुनाव में कुशवाहा को दो सीटों पर चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया गया था. इसके बाद ही वह एनडीए से अलग हो गए थे.

 

साभार : एनडीटीवी


Related posts

सुब्रमण्यम स्वामी: राम मंदिर मसले पर केन्द्र और यूपी सरकार ने विरोध किया तो होगा तख्तापलट

Editor ThePoliticalIndia

सुप्रीम कोर्ट ने गवाह संरक्षण योजना को दी मंज़ूरी, कहा- हर ज़िले में बने गवाही के लिए अलग परिसर

Editor ThePoliticalIndia

देश के छात्रों के नाम राहुल गांधी का पत्र, कहा, आप हैं राष्ट्र-निर्माता

Editor ThePoliticalIndia

अगले लोकसभा चुनावों का संकेत है ये चुनाव पर‍िणाम- अशोक गहलोत

Editor ThePoliticalIndia

हिमाचल प्रदेश: PM मोदी की रैली में जा रही स्कूली बच्चों से भरी बस पलटी, 35 घायल

Editor ThePoliticalIndia

BJP डूबता जहाज़, राहुल गाँधी होंगे देश के अगले पीएम : वीरेन्द्र बिधूड़ी

Editor ThePoliticalIndia