The Political India
File Photo
face in focus अन्य प्रादेशिक राष्ट्रीय विशेष संसद

‘डैमेज कंट्रोल’ में जुटी BJP, अमित शाह से मिले रामविलास-चिराग पासवान


लोक जनशक्ति पार्टी (LJP) के एनडीए छोड़ने की धमकी के बाद बीजेपी डैमेज कंट्रोल के मोड में आ गई है. इस कड़ी में बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह लोजपा सुप्रीमो रामविलास पासवान और उनके बेटे चिराग पासवान से मुलाकात हुई हैं. इस मुलाकात का जिम्मा पार्टी ने बिहार प्रभारी भूपेंद्र यादव को दिया था. बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह के घर पर लोजपा नेताओं की ये मुलाकात हुई है.

12 जनपथ पर हुई इस मुलाकात को काफी अहम माना जा रहा है. ऐसा माना जा रहा है कि बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह लोजपा नेताओं राम विलास पासवान, चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस से मिलकर सीट शेयरिंग को लेकर उनके गिले-शिकवे दूर करेंगे. सीट शेयरिंग पर LJP से बीजेपी से नाराजगी के बीच बड़ी खबर है कि चिराग पासवान ने नोटबंदी की सफलता को लेकर सवाल उठाए हैं.

बता दें कि इससे पहले भूपेंद्र यादव ने लोजपा सुप्रीमो सह केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान, चिराग पासवान और पशुपति कुमार पारस से मुलाकात की थी.

विश्वस्त सूत्रों के अनुसार, चिराग पासवान ने पीएम मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली से नोटबंदी के लाभ के बारे में जानकारी मांगी है. लोक जन शक्ति पार्टी संसदीय बोर्ड के अध्यक्ष चिराग पासवान के इस खत के सियासी मायने हैं. कयास लगाए जा रहे हैं कि एलजेपी भी अब एनडीए को बाय-बाय करने वाली है

 गौरतलब है कि बीते 18 दिसंबर को चिराग पासवान ने बीजेपी को चेतावनी देते हुए एक ट्वीट किया था, उन्होंने लिखा था ‘टीडीपी और RLSP के NDA गठबंधन से जाने के बाद ये गठबंधन नाज़ुक मोड़ से गुज़र रहा है.ऐसे समय में भारतीय जनता पार्टी गठबंधन में फिलहाल बचे हुए साथियों की चिंताओं को समय रहते सम्मान पूर्वक तरीके से दूर करें.’

 

 

साभार : न्यूज़ 18 


Related posts

राजस्थान विधानसभा चुनाव: कांग्रेस बहुमत के करीब, कार्यकर्ता मना रहे जश्न

Editor ThePoliticalIndia

तीन तलाक बिल : व्हिप जारी होने के बावजूद गैरहाजिर रहे BJP के 30 सांसद.

Editor ThePoliticalIndia

शहीद के परिवार का आतंकियों को खुला खत- तुमने उसे मार डाला जो कश्मीर को बेहद प्यार करता था, आओ हमें भी मार डालो

admin

मिज़ोरम चुनाव: एमएनएफ को बहुमत, मुख्यमंत्री लाल थानहावला ने इस्तीफ़ा दिया

Editor ThePoliticalIndia

निजी अस्पताल ने मरीज से कहा- आयुष्मान कार्ड का कोई वैल्यू नहीं है, इलाज चाहिए तो पैसे लाओ

Editor ThePoliticalIndia

संसद सत्र छोटा लेकिन घबराहट बड़ी है, मोदी सरकार में ताबड़तोड़ बैठकों का दौर शुरू

Editor ThePoliticalIndia