The Political India
face in focus प्रादेशिक राष्ट्रीय

पार्टी को बनाने और बनाए रखने के लिए सभी नायकों को सलाम : राहुल गांधी


 

राहुल गांधी ने कांग्रेस के स्थापना दिवस पर पार्टी के दिग्गजों को याद किया। उन्होंने कहा कि लाखों कांग्रेस कार्यकर्ताओं, पुरुषों और महिलाओं द्वारा निस्वार्थ सेवा प्रदान करने और वर्षों तक पार्टी को बनाए रखने में मदद करने के लिए मैं उन्हें सलाम करता हूं।

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस का आज 134वां स्थापना दिवस है। इस मौके पर दिल्ली समेत देश भर के कांग्रेस मुख्यालयों में कार्यक्रम आयोजित किया गया। दिल्ली के कांग्रेस मुख्यालय में पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी ने झंडा फराया। इस मौके पर उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ केक भी काटा ।

पार्टी के स्थापना दिवस के मौके पर कांग्रेस अध्यक्ष ने कांग्रेस के दिग्गज नेताओं को याद किया। इस मौके पर उन्होंने ट्वीट कर कहा, “आइए हम उन लाखों कांग्रेस कार्यकर्ताओं, पुरुषों और महिलाओं के निस्वार्थ सेवा और योगदान का जश्न मनाएं, जिन्होंने वर्षों तक कांग्रेस पार्टी को बनाने और बनाए रखने में मदद की। हम उन नायकों को अपना आभार और सम्मान देते हैं। मैं उन सभी को सलाम करता हूं।”

दिल्ली के कांग्रेस मुख्याल में आयोजित कार्यक्रम में राहुल गांधी के साथ पार्टी के कई बड़े नेता मौजूद हैं। इनमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मोतीलाल वोरा, कपिल सिब्बल, एके एंटनी, शशि थरूर, अशोक गहलोत, आनंद शर्मा, गुलामनबी आजाद और शीला दीक्षित समेत कई नेता मजौदू थे। इनमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, मोतीलाल वोरा, कपिल सिब्बल, एके एंटनी, शशि थरूर, अशोक गहलोत, आनंद शर्मा, गुलामनबी आजाद और शीला दीक्षित समेत कई नेता मजौदू थे।

कांग्रेस की स्थापना ब्रिटिश शासनकाल में 1885 में हुई थी। पार्टी के संस्थापकों में दादा भाई नौरोजी, एओ ह्यूम और दिनशा वाचा जैसे बड़े दिग्गज नेता शामिल रहे। देश को अंग्रेजों शासन से मुक्त कराने के लिए कांग्रेस पार्टी और उसके नेताओं ने बड़ा योगदान दिया। 1947 में देश को आजादी मिली, उसके बाद कांग्रेस देश की पहली बड़ी राजनीतिक पार्टी बनी।

 

 

 

साभार : नवजीवन

 

 

 

 

 

 

 

 


Related posts

नतीजों पर बोलीं सोनिया गांधी- ये BJP की नकारात्मक राजनीति की हार

Editor ThePoliticalIndia

एनकाउंटर के बाद पुलवामा में बवाल, 7 नागरिकों की मौत, 1 जवान शहीद

Editor ThePoliticalIndia

मिज़ोरम चुनाव: एमएनएफ को बहुमत, मुख्यमंत्री लाल थानहावला ने इस्तीफ़ा दिया

Editor ThePoliticalIndia

‘सरकारी जासूसी’ पर ओवैसी बोले- अब समझ में आया घर-घर मोदी का मतलब

Editor ThePoliticalIndia

मुख्यमंत्री बनते ही एक्शन में कमलनाथ, कर्ज माफी वाली फाइल पर किए साइन

Editor ThePoliticalIndia

बिहार के बाद ओडिशा में प्रभारी पर यौन शोषण के आरोप के बाद आश्रय गृह सील

Editor ThePoliticalIndia